Coronavirus को घर में ही दें मात, एक्सपर्ट डॉक्टर ने बताया कैसे करें Self-Isolate

Coronavirus Treatment at home:

अमेरिका के एक डॉक्टर ने बताया है कि कैसे कोरोना वायरस का इलाज घर पर किया जा सकता है। इसके लिए खुद को सेल्फ-आइसोलेट कैसे करना है और किन बातों का ध्यान रखना है, डॉ. फहीम यूनुस ने बताया है।

मैरीलैंड
कोरोना वायरस को लेकर लोगों के मन में कई सवाल है। न सिर्फ इस बीमारी बल्कि उसके इलाज और उस पर होने वाले खर्च ने भी लोगों को परेशान कर रखा है। ऐसे में अमेरिका की मैरीलैंड यूनिवर्सिटी अपर चेसापीक हेल्थ के डॉक्टर फहीम यूनुस ने ट्विटर लोगों की यह परेशानी कुछ हद तक दूर करने की कोशिश की है। डॉ. फहीम ने बताया है कि लोग कुछ बातों का पालन करें तो घर पर ही वह इन्फेक्शन को हरा सकते हैं। उन्होंने दावा किया है कि घर पर ही सही तरीके से रहने से 80-90% लोग ठीक हो सकते हैं।

अलग करें कमरा, बाथरूम
डॉ. फहीम ने एक ट्विटर थ्रेड में बताया कि सबसे पहले इन्फेक्शन होने पर खुद को 14 दिन के लिए अलग कर लें। इस दौरान अलग कमरे में रहे हैं, अलग बाथरूम का इस्तेमाल करें और अपने बर्तन भी अलग कर लें। अगर एक ही कमरा हो तो मोटे पर्दे या स्क्रीन ने बीच में दीवार खड़ी करें और उसके पीछे रहे हैं। अगर बाथरूम एक ही हो तो जाने से पहले फेसमास्क पहनें और इस्तेमाल के बाद पूरा सर्फेस साफ करें। अगर रूम शेयर कर रहे हैं तो स्टीम, नेबुलाइजर, सीपैप शेयर न करें।

हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन पर आ गया नया निर्देश

दवाइयों को लेकर न हों परेशान
उन्होंने बताया है कि ज्यादातर मामलों में सिर्फ paracetamol या ibuprofen चाहिए होती है। ऐंटीबायोटिक्स की जरूरत नहीं होती है। हो सके तो हर रोज तापमान, सांस की गति, पल्स और बीपी नापें। ज्यादातर स्मार्टफोन्स में पल्स ऑग्जिमेंट्री ऐप होता है। अगर इसमें ऑग्ज 90 के नीचे हो या बीपी 90 सिस्टोलिक के नीचे जाए, तो डॉक्टर से बात करें। 60-65 की उम्र में हाई बीपी, मोटाबे, मधुमेह झेल रहे लोगों को कोरोना का खतरा ज्यादा होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *